Aug 28, 2017

फेसबुक का स्तर दिन ब दिन गिरता जा रहा है

दोस्तों, आज मैंने फेसबुक पे कुछ ऐसा झेला है जैसा पहले कभी नहीं देखा। कोई भी बात बताने से पहले मैं ये बताना चाहता हूँ कि मेरा ये पोस्ट केवल मेरे मित्र ही देख सकते हैं। तो अगर आप ये पोस्ट पढ़ सकते हैं तो आप पहले से मेरे फ्रेंड लिस्ट में हैं।

आज एक व्यक्ति जिसका नाम "दिव्यांशु सेठी" है और जो कुल्लू का रहने वाला है उसने कुछ आपत्ति जनक फोटो (फोटोशॉप के जरिए) मेरे चेहरे को लेकर बनायीं और उसे एक पोस्ट जिसपर मैंने कमेंट किया था वहाँ पोस्ट कर दी। मैंने तुरंत उसे फेसबुक को रिपोर्ट किया और उसे मेस्सेंजर के जरिये मेरा फोटो हटाने के लिए कहा। फोटो हटाने के बजाय वो मेसेंजर पर ही और फालतू की फोटो भेजने लग गया जिस वजह से हममे लंबी बहस हुई और मैंने उसका अकाउंट ब्लॉक कर दिया।

उसके एक मिनट के बाद ही किसी अजीब सी प्रोफाइल से वही तस्वीरें मेरे एक पोस्ट के कमेंट के रूप में पोस्ट की गयी। मैंने उसे तुरंत हटाया और उस अकाउंट को ब्लॉक किया। उसे तुरंत बाद किसी और अजीब से अकाउंट से वही तस्वीरें अपलोड की गयी और एक एक कर के मैंने ५ अकाउंट को ब्लॉक किया।

इसके कुछ मिनटों बाद वही तस्वीरें मेरे खुद के अकाउंट से मेरे ही पोस्ट पे कमेंट की गयी। मुझे लगा मेरा अकाउंट हैक हो गया है और मैंने तुरंत अपना पासवर्ड बदला लेकिन वैसी तस्वीरें पोस्ट होती रही। मेरे दोस्त तपस्विनी और राहुल इस बात के गवाह हैं। बाद में मुझे पता चला की उस व्यक्ति ने मेरे प्रोफाइल पिक्चर को लेकर ठीक मेरे नाम की फेक प्रोफाइल बनायीं है और उसी से वो उन तस्वीरों को पोस्ट कर रहा है। उसने एक के बाद एक ६ अकाउंट मेरे नाम की बनायीं और मैं सबको ब्लॉक करता रहा। मजे की बात ये है कि वो ये सिर्फ इसलिए कर रहा था क्योकि वो रणवीर सिंह का बहुत बड़ा प्रशंसक था और मैंने उसके खिलाफ एक पोस्ट पर कमेंट किया था। मुझे नहीं पता था कि वो इतना नीच और मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति है।

मैंने तुरंत इसकी शिकायत कुल्लू पुलिस के फेसबुक पेज पर किया और भाग्य से उनकी तरफ से तुरंत उत्तर आया। उनके द्वारा चेतावनी देने के बाद वो व्यक्ति मेरे पोस्ट पे कमेंट करना बंद किया। हालाँकि वो अभी भी मेरे मेस्सेंजर पर वही तस्वीरें भेज रहा है जिसे मैंने ब्लॉक कर दिया। यही नहीं वो व्यक्ति पूरे फेसबुक पर वर्मा नाम के सभी व्यक्तियों का नाम खोज खोज कर उन्हें वो तस्वीरें भेज रहा है। मैं कुल्लू पुलिस की सहायता के लिए उनका आभारी हूँ।

मेरी ये प्रार्थना है कि अगर आपको मेरे नाम से कोई फ्रेंड रिक्वेस्ट आये तो उसे स्वीकार ना करें क्युकी आप पहले से ही मेरे फ्रेंड लिस्ट में हैं क्युकि इससे वो और आगे जा सकता है और आपकी गोपनीयता के साथ भी छेड़ छाड़ कर सकता है।

अंत में मैं सबसे, खासकर महिलाओं से अनुरोध करता हूँ कि वो फेसबुक में अपनी प्राइवेसी सेटिंग के पूरी तरह से सेट करें ताकि आपकी गोपनीय चीजों का गलत प्रयोग ना हो सके। साथ ही फ्रेंड रिक्वेस्ट को अप्रूव करते समय भी ये सुनिश्चित करें कि आप उसे जानते हैं या नहीं। फेसबुक दिन ब दिन घटिया लोगों से भरता जा रहा है और आश्चर्यजनक रूप से ऐसा कोई तरीका नहीं है जिससे इस तरह की हरकतों को रोका जा सके। फेसबुक और व्हाट्सप्प जैसे बड़े प्लेटफार्म में इस तरह की चूक होना आश्चर्यजनक है।

तो फिर से, अपनी प्राइवेसी सेटिंग्स को ठीक करें और हो सके तो इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस तरह के अपराध से बच सकें। धन्यवाद।